चीनी दूतावास पर हमले में रॉ का हाथ होने का पाक ने लगाया आरोप, भारत ने किया खारिज

0
14

नई दिल्ली|पाकिस्तान की पुलिस ने कराची स्थित चीनी वाणिज्य दूतावास पर नवंबर में हुए हमले के पीछे भारतीय खुफिया एजेंसी रॉ का हाथ बताया है। लेकिन भारत ने इन आरोपों को ‘मनगढ़ंत और झूठे’ बताते हुए खारिज कर दिया है। कराची पुलिस ने दावा किया कि उसने एक अलगाववादी समूह बलूच लिबरेशन आर्मी के पांच सदस्यों को हिरासत में लिया है, जिन पर 23 नवंबर को चीनी दूतावास पर हमले में शामिल लोगों से जुड़े होने का आरोप है। इस हमले में चार लोगों की मौत हो गई थी।
बलूच लिबरेशन आर्मी लगातार चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे का विरोध कर रही है। कराची पुलिस प्रमुख आमिर शेख ने एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि पकड़े गए लोगों ने यह कबूल किया है कि उन्होंने तीनों हमलावरों को जरूरी सुविधा मुहैया कराई थी। साथ ही शेख ने दावा किया कि इस हमले की योजना अफगानिस्तान में बनाई गई थी और इसे भारत की रिसर्च एंड एनेलसिस विंग (रॉ) की मदद से अंजाम दिया गया था।
पाकिस्तान के इस दावे पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने नई दिल्ली में तीखी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा, हमने पाकिस्तानी मीडिया में कराची पुलिस चीफ के बयान को देखा है, जिसमें भारत के खिलाफ आतंकी हमले के झूठे आरोप लगाए गए हैं। उन्होंने कहा, हम इन मनगढ़ंत आरोपों को खारिज करते हैं। ऐसी आतंकी घटनाओं के लिए दूसरों पर अंगुली उठाने के बजाय पाकिस्तान को अपने गिरेबान में झांकने की जरूरत है और अपनी सीमाओं में आतंकवाद व आतंकी ढांचे को समर्थन देने वालों के खिलाफ विश्वसनीय कार्रवाई करनी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here