कानपुर देहात: भटक कर गॉव पहुंचे सांभर हिरण को देखने के लिए जुटे ग्रामीण

0
68

कानपुर। रसूलाबाद के असालतगंज जंगल से भटक कर सांभर हिरण संदलपुर ब्लाक के गढिय़ा सिकंदरा गांव में पहुंच गया। यहां ग्रामीणों ने उसे पकडऩे की को घेराबंदी की तो वह एक ग्रामीण के निर्मणाधीन कमरे में घुस गया। सूचना पर पुलिस व वन कर्मियों की टीम पहुंची। वन कर्मी हिरण को जंगल में छोडऩे को ले गए।

को जंगल से भटक कर आए कई सींग वाले हिरण को गढिया सिकंदरा गांव में भटकता देख ग्रामीण जुट गए। उत्सुकता व हिरण को पकडऩे की कोशिश कुछ युवकों ने की। सींग में रस्सी फंसाकर गामीणों ने हिरण को पकडऩा चाहा तो वह भड़क गया और कूदते हुए भाग निकला। लोगों के पीछा करने पर बचने के लिए गांव के विजय राम केवट के बिना छत के कमरे में घुस गया।

इस पर लोगों ने कमरे का दरवाजा बंद कर पुलिस व वन कर्मियों को सूचना दी। थोड़ी देर में पुलिस और वन विभाग के दारोगा इंद्रपाल तोमर अन्य विभागीय कर्मियों को लेकर यहां पहुंचे और ग्रामीणों को शांत किया। इसके बाद हिरण को पकड़ लिया। वन दारोगा ने बताया कि हिरण मिलने की जानकारी उच्चाधिकारियों को दी है। आशंका है कि हिरण सेंगुर नदी किनारे तक भटक कर आ गया। इसके बाद गढिय़ा सिकंदरा पहुंच गया।

डीएफओ डा. ललित कुमार गिरि ने बताया कि गढिय़ा- सिकंदरा गांव में मिला हिरण सांभर (नर) है। यह राजस्थान में पाया जाता है। असालतगंज जंगल में भी बड़ा हिरण कुनबा है। हिरण असालतगंज जंगल से भटक कर गांव पहुंच गया। उसे सुरक्षित वापस जंगल में छोड़वाया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here