कानपुर : पीड़िता करती रही इंतजार, नहीं आईं तीन तलाक मामलों की संयोजक

0
57

कानपुर। भाजपा अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ की प्रदेश मंत्री व तीन तलाक मामलों की संयोजक नाजिया आलम को हंसपुरम में तीन तलाक पीड़ित महिलाओं से रूबरु होना था लेकिन वह नहीं आईं। पांच घंटे इंतजार के बाद पीड़िताएं मायूस होकर लौट गईं।

भाजपा अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ ने तीन तलाक पर मुस्लिम महिला सम्मेलन आयोजित किया था। इस सम्मेलन में रामपुर से नाजिया को आना था। कई घंटे मंच से उनके आने की सूचना दी जाती रही लेकिन शाम पांच बजे कहा गया कि कार खराब होने से वह नहीं आएंगी।

इस दौरान महिला आयोग की सदस्य पूनम कपूर ने कहा कि मुस्लिम बहनें अपने आपको अकेला नहीं समझें। भाजपा महिला मोर्चा की राष्ट्रीय महासचिव कमलावती, उत्तर जिलाध्यक्ष सुरेंद्र मैथानी, दक्षिण जिलाध्यक्ष अनीता गुप्ता, पूर्व विधायक रघुनंदन सिंह भदौरिया, गुरविंदर सिंह छाबड़ा, मुनीर खां, परमजीत चंडोक, बाबा अनवार फरीदी, नाजिया सिद्दीकी, पुष्पा तिवारी, आनंद राजपाल, मलखान सिंह, समी अंसारी आदि ने विचार रखे।

लालच देकर बुलाने का आरोप
सम्मेलन में आई फरजाना, रूखसार आदि ने आरोप लगाया कि उन्हें कालोनी देने और राशनकार्ड बनाने का लालच देकर बुलाया गया था। उधर कार्यक्रम संयोजक भाजपा अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के क्षेत्रीय अध्यक्ष अजीत सिंह छाबड़ा का कहना है कि 425 मुस्लिम महिलाओं ने अपने आधारकार्ड देकर राशन कार्ड बनवाने की मांग की। इन महिलाओं को सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाया जाएगा।

होमवर्क नहीं होने से नाराज
भाजपा सूत्रों का कहना है कि नाजिया आलम इस कारण नहीं आईं कि उन्हें बताया गया कि कार्यक्रम आयोजकों ने कोई होमवर्क नही किया है। बैठक में शामिल होना पड़ा इधर नाजिया आलम ने कहा कि उन्हें लखनऊ में एक बैठक में शामिल होना था, इस कारण वे कार्यक्रम में नहीं आ सकीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here