यूपी : सेना की तैयारी कर रहे छात्र की गोली मार कर हत्या

0
90

लखनऊ : मलिहाबाद थाना क्षेत्र के खड़सरा गाॅव मे बीती रात मलिहाबाद की रहीमाबाद पुलिस चैकी मे तैनात होमगार्ड केे 19 वर्षीय पुत्र इन्टर के छात्र की गोली मार कर हत्या कर दी गई। मृतक छात्र इन्टर की पढ़ाई के बाद सेना मे जाने की तैय्यारी कर रहा था। हत्या का आरोप मृतक के दोस्त समेत दो लोगो पर लगा है पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपियो की तलाश शुरू कर दी है।

एएसपी ग्रामीण गौरव ग्रोवर ने बताया कि हत्या के कारणो का पता लगाया जा रहा है उन्होने बताया कि हत्या का एक कारण किसी महिला से अवैध सम्बन्ध होने की जानकारी मिली है पूरे मामले की जाॅच की जा रही है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। हालाकि हत्या के इस मामले मे मृतक के पिता ने ही पुलिस पर आरोप लगाए है।

मृतक के पिता का तो यहां तक कहना है कि आरोपी ने हत्या के बाद कोतवाली पहुॅच कर खुद सरेन्डर कर दिया था लेकिन पुलिस इन्कार कर रही है। मृतक के पिता के अनुसार उनके बेटे की हत्या करने वाले ने दो दिन दिन पहले उन्हे धमकी दी थी। जानकारी के अनुसार मलिहाबाद की रहीमाबाद पुलिस चैकी मे तैनात होमगार्ड रमाकान्त यादव अपन पत्नी रमादेवी दो बेटे और तीन बेटियों के साथ मलिहाबाद थाना क्षेत्र के खड़सरा गाॅव मे रहते है।

उनका 19 वर्षीय बेटा पवन यादव चन्द्र शेखर आजाद महाविधालय से 12वीं की पढ़ाइ कर चुका था। पवन यादव इन्टर पास करने के बाद सेना मे जाने की तैय्यारी मे लगा हुआ था। बीती रात इसी गाॅव मे रहने वाले कैलाश ने उसके घर मे घुस कर उसे गोली मार दी। मृतक के पिता रमाकान्त यादव ने बताया कि उसके दो बेटे पवन और विशाल रात मे एक साथ पढ़ाई कर करके सोए थे रात करीब दो बजे कैलाश उनके घर के पीछे की दीवार फंाद कर आया और उनके बड़े पुत्र पवन की कनपटी पर सटा कर गोली मार दी।

उन्होने बताया कि पूरी घटना का उनका छोटा बेटा विशाल चश्मदीद गवाह है उन्होने बताया कि उनकी तैनाती मलिहाबद की रहीमाबाद चैकी पर रात मे थी घटना जब हुई तब उनकी वो डियूटी कर रहे थे। रमाकान्त ने बताया कि आरोपी कैलाश ने उनके बेटे की हत्या के बाद खुद जाकर कोतवाली मे सरेन्डर कर दिया लेकिन पुलिस सरेन्डर की बात से इन्कार कर रही है। रमाकान्त का कहना था कि उनके बेटे की हत्या के पीछे कोई गहरी साजिश है उनका कहना था कि मेरे बेटे की हत्या की घटना के बाद उनके घर पर इन्स्पेक्टर के अलावा कोई भी अधिकारी नही पहुॅचा।

मृतक के पिता रमाकान्त के अनुसार हत्या आरोपी कैलाश ने तीन दिन पहले उनसे कहा था कि प्रधान से हमारी दुशमनी है अपने पुत्र से कह दो कि प्रधान से न मिले वरना उसे हम मार देंगे लेकिन उन्होने कैलाश की धमकी को हल्के मे लिया और कोई कार्यवही नही की। उन्होने बताया कि कैलाश के पिता घुघरू का देहान्त हो चुका है उसने अभी कुछ दिन पहले ही लाखो रूपए की अपनी जमीन बेची है इसके अलावा कैलाश ने गाॅव मे ही लाखों रूपए का गबन किया था।

रमाकान्त कहते है कि उनका बेटा पढ़ लिख कर सेना मे भर्ती होकर देश की सेवा करना चाहता था लेकिन उसकी निर्मम हत्या कर दी गई। जवान बेटे की हत्या के बाद माॅ रमा देवी का रो रो कर बुरा हाल है मृतक की तीन बहने है। पवन की हत्या की खबर जब उसके साथ पढ़ने वाले सहपाठियो को लगी तो उसके दोस्तो मे गम की लहर दौड़ गई।

मृतक के पिता के अनुसार हत्या आरोपी कैलाश यादव ने उनके बेटे की हत्या के बाद थाने जा कर आत्म समपर्ण कर दिया । एएसपी ग्रामीण और इन्स्पेक्टर मलिहाबाद ने गिरफ्तारी की बात स्वीकार नही की है उनका कहना है कि आरोपी की गिरफ्तारी जल्द होने की सम्भावना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here