सेना को मिलेगी मजबूती, रुस-भारत के बीच एस-400 पर होगी डील

0
62

नई दिल्ली : पुराने दोस्त आज फिर एक बार मिलेंगे। भारत में गुरुवार शाम आ रहे रुस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन दो दिवसीय दौर पर हैं। इसमें मुख्य विषय एस 400 डील पर हस्ताक्षर होने की संभावना है। इस मामले मेें अमेरिका ने भारत को धमकाया है लेकिन भारत अपनी रक्षा के सम्बंध में किसी के हस्तक्षेप को गलत मानते हैं। इसके मिलने के बाद भारत की वायुसेना मजबूत हो जाएगी। इससे तीन दिशाओं में हमार कर सकेंगे।

पुतिन अपनी भारत यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ वार्षिक भारत-रूस शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे। दोनों नेता ईरान पर अमेरिकी प्रतिबंध के मद्देनजर कच्चे तेल की स्थिति समेत विभिन्न द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और अंतराष्ट्रीय मुद्दों पर भी चर्चा कर सकते हैं। 19वें भारत-रूस शिखर सम्मेलन के दौरान दोनों नेता रूसी रक्षा कंपनियों पर अमेरिकी प्रतिबंध की पृष्ठभूमि में द्विपक्षीय रक्षा संबंधों की भी समीक्षा कर सकते हैं।

रूस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा था कि इस यात्रा की मुख्य विशेषता एस-400 वायु रक्षा प्रणाली की आपूर्ति के लिए समझौते पर दस्तखत करना होगा और यह करार पांच अरब डॉलर की राशि से ज्यादा का होगा। विदेश मंत्रालय ने कहा कि इस दौरे के दौरान राष्ट्रपति पुतिन प्रधानमंत्री मोदी के साथ आधिकारिक वार्ता करेंगे और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से भी मुलाकात करेंगे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here